CBSE 12वीं की परीक्षा रद्द होने के बाद जल्द ही यूपी बोर्ड की परीक्षा पर भी होगा फैसला

पीएम मोदी की तरफ से हुई बैठक में CBSE की 12वीं की परीक्षा रद्द करने का फैसला लिया गया है. जिसके बाद अब यूपी बोर्ड की इंटरमीडिएट परीक्षा भी रद किए जाने के पूरे आसार नजर आ रहे हैं.

My Bharat News - Article navbharat times 3
पीएम मोदी की अध्यक्षता में सीबीएसई 12वीं की परीक्षा की गई है रद्द

सीबीएसई परीक्षा का निर्णय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में हुआ है. वहीं अब यूपी बोर्ड की परीक्षा को लेकर भी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जल्द ही बैठक करके निर्णय लेंगे. वैसे यूपी बोर्ड ने मई माह में ही इंटर के परीक्षार्थियों को प्रमोट करने की तैयारियां कर रखी हैं.

My Bharat News - Article navbharat times
कोरोना के मामलों को देखते हुए यूपी सरकार भी जल्द लेगी परीक्षा पर निर्णय

यूपी बोर्ड के सचिव ने 22 मई को ही सभी कॉलेजों से कक्षा 12 की प्रीबोर्ड और 11 की छमाही व वार्षिक परीक्षा के अंक मांगे थे.जिसके बाद  28 मई तक यूपी के अधिकांश स्कूल छात्र-छात्राओं के अंक का ब्योरा भेज चुके हैं.

My Bharat News - Article yogi
सीएमं योगी आदित्यनाथ ने पीएम मोदी के फैसले को बताया सराहनीय

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ कहा कि प्रधानमंत्री ने कोविड संक्रमण के दृष्टिगत सीबीएसई की 12वीं बोर्ड परीक्षा रद करने का निर्णय लिया है. इसके लिए उन्होंने सभी छात्रों व अभिभावकों की ओर से प्रधानमंत्री को आभार व्यक्त किया. सीएम योगी ने कहा कि ये निर्णय देश भर के छात्रों की स्वास्थ्य सुरक्षा की दिशा में बढ़ाया गया महत्वपूर्ण कदम है.

My Bharat News - Article dinesh sharma new
यूपी के डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा ने भी पीएम का जताया आभार

उप मुख्यमंत्री डॉ दिनेश शर्मा ने प्रधानमंत्री नरेद्र मोदी के निर्णय का आभार जताते हुए कहा कि उनके लिए हमेशा से ही बच्चों का भविष्य व स्वास्थ्य पहली प्राथमिकता रहे हैं. कोरोना काल की परिस्थितियों को देखते हुए बच्चों के हित में लिए गए इस निर्णय से न केवल बच्चों को बल्कि उनके अभिभावकों को भी राहत मिलेगी.

My Bharat News - Article 317e0ee229f61680396c5cbf13a8c0bb original
यूपी बोर्ड के अभ्यर्थियों को भी जल्द ही प्रोमेट करने को लेकर होगा फैसला

उप मुख्यमंत्री डॉ दिनेश शर्मा ने बताया कि केद्र व राज्य सरकार अपने नागरिकों को कोरोना महामारी से सुरक्षित करने के लिए हर संभव कदम उठा रही है.परीक्षा रद्द किये जाने का निर्णय उसी दिशा में लिया गया एक बेहतर कदम है.वहीं उत्तर प्रदेश की सरकार पूर्व में ही कक्षा 6 से लेकर कक्षा 11 की परीक्षा को रद्द कर विद्यार्थियों को प्रोन्नत करने का निर्णय कर चुकी है.