19 साल की उम्र और 43 करोड़ की कंपनी का मालिक,आदित पलीचा की पूरी कहानी….

My Bharat News - Article zepto

19 साल के आदित पलीचा ने अपने दोस्त कैवल्य के साथ मिलकर केवल 5 महिने मे ही 43 करोड़ की कंपनी खड़ी कर दी है। जेप्टो, दो दोस्तों का एक ऐसा स्टार्टअप प्लान है,जिसने आज इन्हे लाखो युवाओं का हिरो बना दिया है। आदित ने स्टैनफोर्ड में पढ़ाई के सुनहरें मौके को छोड़ अपने दोस्त के कहने पर उसके साथ मिलकर इंस्टैंट ग्रॉसरी डिलीवर (Grocery Delivery) करने वाली कंपनी जेप्टो (Zepto) शुरु किया। जो अब 43 करोड़ की कंपनी बन चुकी है।

क्या है जेप्टों

महज पांच महिने पहले शुरु हुई यह कंपनी इंस्टैंट ग्रॉसरी डिलीवर करने के कॉन्सेप्ट पर बनाई गई है। यह कंपनी केवल 10 मिनट मे ग्रॉसरी डिलीवर करती है। मुंंबई से शुरु हुई यह कंपनी अपनी सर्विस बेंगलुरू सहित दिल्ली, गुरुग्राम, और चेन्नई दे रही है। जल्द ही कोलकात्ता, हैदराबाद और पुणे भी इस सर्विस का लाभ उठा सकेंगे। अभी जेप्टो ताजा प्रोडक्ट, राशन के सामान, स्नैक्स, पर्सनल केयर जैसे सेगमेंट में 2,500 से अधिक सामानों की डिलीवरी कर रही है। वाई कंबिनेटर, ग्लेड ब्रुक कैपिटल, नेक्सस वेंचर्स, ग्लोबल फाउंडर्स (Global Founders) और लैची ग्रूम जैसे इन्वेस्टर ने जेप्टो में पैसे लगाया हैं।

किन कंपनीयों के साथ होगा इसका मुकाबला

मार्केट मे पहले से ही इशटेबलिश ग्रोफर्स और डुंजो जैसी कंपनीया भी इंस्टैंट ग्रॉसरी डिलीवर कॉन्सेप्ट पर काम कर रही है। यही वो कंपनीयों है जो जेप्टो को कड़ा मुकाबला देने वाली साबित होने वाली है। इन कंपनीयों को सॉफ्टबैंक और गूगल जैसी इंटरनेशनल ब्रैंड से फंड मिलता है।