10-10 हजार में बेच रहे थे MBA, BCA, MCA जैसी डिग्री

My Bharat News - Article

दिल्ली पुलिस ने एक फेक शिक्षा केंद्र का भंडाफोड़ किया है. पुलिस के मुताबिक ये लोग शिक्षा केंद्र के नाम पर जाली मार्कशीट रैकेट चला रहे थे. पुलिस ने गैंग के 6 शातिर ठगों को गिरफ्तार किया है. इनके पास से बड़ी संख्या मे जाली मार्कशीट, सर्टिफिकेट और जाली मार्कशीट बनाने में काम आने वाले दस्तावेज बरामद किए हैं. पकड़ में आए आरोपियों का नाम दीपिका, रेखा, अमिता, पूनम, रेहान और कैफ हैं.

साउथ दिल्ली के साइबर थाना पुलिस को मुखबिर के जरिए जानकारी मिली थी कि सनलाइट कॉलोनी इलाके में एक फेक एजुकेशन सेंटर चल रहा है. पुलिस ने मामले की जांच की और छापेमारी के लिए एक टीम का गठन किया गया. मंगलवार की शाम साढ़े तीन बजे पुलिस की टीम मौके पर पहुंची तो वहां देखा कि 4 लड़कियां बैठी थीं.

पुलिस ने मौके से चारों को पकड़ा और जांच की तो पता चला कि यह सभी लड़कियां लोगों को बैक डेट की मार्कशीट बेच रही थी. ये लोग अलग-अलग कोर्स जैसे बीबीए, बीसीए, एमसीए जैसे कोर्स के बैक डेट के अलग-अलग विश्वविद्यालयों के जाली सर्टिफिकेट बेचते थे. पुलिस ने 6 मोबाइल फोन एक लैपटाप प्रिंटर और बैक डेट की जाली मार्कशीट डिग्री और सर्टिफिकेट और इसके अलावा एक रिकॉर्ड रजिस्टर बरामद किया है. इनके पास से एक पेमेंट स्लिप भी बरामद हुई है.

पूछताछ के बाद पुलिस ने कैफ और रिहान को उनके घरों से गिरफ्तार किया. यह दोनों फेक इंस्टिट्यूट चला रहे थे. पुलिस अब यह पता लगाने की कोशिश कर रही है कि इन लोगों ने अब तक कितनी मार्कशीट और सर्टिफिकेट बेचे हैं.

यह लोग एक वेबसाइट से डाटा लेते थे और फिर उन लोगों को फोन करके डिग्री बेचा करते थे. 10 हजार से 20 हजार रुपये में यह लोग डिग्री और सर्टिफिकेट देते थे. पुलिस के अनुसार जांच में पता चला कि इनके द्वारा दी गई डिग्री का यूनिवर्सिटी में कोई रिकॉर्ड नहीं है.