संपत्ति विवाद में देवर ने भाभी को उतारा मौत के घाट, चरपाई पर लेटी भाभी पर किए कई वार

My Bharat News - Article भाभी की हत्या

औरैया जिले में संपत्ति के विवाद में रविवार शाम देवर ने चारपाई पर लेटी भाभी की चाकू से ताबड़तोड़ वार कर हत्या कर दी। ग्रामीणों ने खून से सना चाकू लेकर घर से निकल रहे देवर को देख महिला के पति को जानकारी दी। घर के अंदर महिला का शव खून से लथपथ पड़ा था। महिला के पेट, गर्दन व हाथ में चोटों के निशान थे।

बिधूना क्षेत्र के पूर्वा पीताराम गांव निवासी गुड्डन देवी उर्फ गुड़िया दिवाकर (40) के पति विजय सिंह की दो साल पहले बीमारी के चलते मौत हो गई थी। पति की मौत के बाद गुड़िया ने गांव निवासी विजय के मौसेरे भाई रामप्रकाश से एक साल पहले दूसरी शादी कर ली थी। शादी से विजय का भाई भूरा नाखुश था। साथ ही गुड़िया के नाम एक बीघा जमीन दर्ज कराने को लेकर भूरा का भाई-भाभी से अक्सर झगड़ा होता था। रविवार शाम करीब चार बजे गुड़िया घर में चारपाई पर लेटी थी।

घर पर किसी के न होने की जानकारी पर देवर भूरा नशे की हालत में चाकू लेकर आया और चारपाई पर लेटी भाभी के शरीर पर चाकू से ताबड़तोड़ आठ से 10 वार कर हत्या कर दी। ग्रामीणों ने गुड़िया के चीखें सुन और भूरा को खून से सना चाकू लेकर भागते देखकर रामप्रकाश व पुलिस को सूचना दी। हत्या की सूचना पर एसपी चारू निगम, एएसपी शिष्यपाल, सीओ बिधूना महेंद्र सिंह पुलिस टीम के साथ घटनास्थल पर पहुंचे। कमरे में खून फैला पड़ा था। एसपी ने महिला के बच्चों, पति, पड़ोसियों व कानपुर देहात के रसूलाबाद असलतगंज से आए मायके पक्ष के लोगों से घटना के संबंध में पूछताछ की। फोरेंसिक टीम ने साक्ष्य एकत्र किए।