लिव-इन में रहते थे आफताब और श्रद्धा, शादी की जिद करने पर प्रेमी ने किए 35 टुकड़े, 5 महीने बाद खुला राज

My Bharat News - Article श्रद्धा की हत्या

दिल्ली पुलिस ने 5 महीने पहले यानी मई 2022 में हुए एक कत्ल का खुलासा किया है. पुलिस ने बताया कि आफताब अमीन पूनावाला नामक शख्स शादी का झांसा देकर कॉल सेंटर में काम करने वाली महिला सहकर्मी श्रद्धा वाकर को मुम्बई से दिल्ली लेकर आया. जब श्रद्धा ने शादी का दबाव बनाया तो आफताब ने उसकी हत्या कर शव के कई टुकड़े कर दिए. फिर उन्हें दिल्ली के अलग-अलग ठिकानों में फेंक दिया.

My Bharat News - Article image 14

घटना के करीब पांच महीने बाद वारदात का खुलासा होने पर पुलिस ने आरोपी आफताब अमीन पूनावाला को गिरफ्तार कर लिया है. जानकारी के मुताबिक, 59 वर्षीय विकास मदान वाकर ने 8 नम्वबर को अपनी बेटी के अपहरण की एफआईआर दिल्ली के महरौली थाने में दर्ज कराई थी.

उन्होंने बताया कि वह परिवार सहित महाराष्ट्र के पालघर में रहते हैं. पीड़ित की 26 वर्षीय बेटी श्रद्धा वाकर मुम्बई के मलाड इलाके में स्थित बहुराष्ट्रीय कम्पनी के कॉल सेंटर में नौकरी करती थी. यहीं पर श्रद्धा की मुलाकात आफताब अमीन से हुई. जल्द ही दोनों एक दूसरे को पसंद करने लगे और वे लिव-इन रिलेशन में रहने लगे. जब परिवार को इस रिश्ते के बारे में जानकारी हुई तो उन्होंने विरोध करना शुरू कर दिया.

My Bharat News - Article image 15

मृतका के पिता को हुई अनहोनी की आशंका
श्रद्धा के पिता विकास मदान वाकर ने बताया कि विरोध करने पर बेटी और आफताब ने अचानक मुम्बई को छोड़ दिया. बाद में पता चला कि वे महरौली के छतरपुर इलाके में रहते हैं. उन्होंने बताया कि किसी न किसी माध्यम से बेटी की जानकारी मिलती रहती थी. लेकिन मई महीने के बाद से उसके बारे में उन्हें कुछ भी पता नहीं लग पा रहा था. उसके फोन नंबर पर भी सम्पर्क करने की कोशिश की गई, लेकिन वह भी नहीं मिला. फिर अनहोनी की आशंका होने पर वह आठ नवंबर को सीधे छतरपुर स्थित फ्लैट में गए जहां बेटी किराये पर रहती थी. वहां पर ताला बंद होने के बाद विकास ने महरौली थाने में पहुंचकर पुलिस को अपहरण की सूचना दी और एफआईआर दर्ज कराई.

शादी को लेकर होते थे झगड़े
पुलिस ने टेक्निकल सर्विलांस से शनिवार को आफताब को ढूंढ निकाला. आफताब ने पूछताछ में चौंकाने वाला खुलासा करते हुए बताया की दोनों के बीच शादी को लेकर अक्सर झगड़े होते थे. श्रद्धा उस पर शादी का दबाव बनाती थी. इसलिए उसने 18 मई को श्रद्धा की धारदार हथियार से हत्या कर डाली. फिर लाश के कई टुकड़े करके दिल्ली के अलग-अलग इलाकों में फेंक दिया. पुलिस ने आरोपी आफताब से पूछताछ के बाद कुछ हड्डियां जंगल से बरामद की हैं. फिलहाल, उसे पुलिस कस्टडी में लेकर पूछताछ की जा रही है.