लखनऊ में परिवार को बंधक बनाकर लूट, परिवार ने रो-रोकर बताई खौफनाक कहानी

My Bharat News - Article बंधक बनाकर लूट

राजधानी लखनऊ में असलहे के बल पर दिनदहाड़े घर में घुसकर बदमाशों ने बर्तन व्यवसाई अश्वनी रस्तोगी और उनके परिजनों को बंधक बनाया और लूटपाट की. मिली जानकारी के अनुसार, इस दौरान नकाबपोश बदमाशों ने नकदी, जेवरात और अन्य कीमती सामानों पर हाथ साफ कर दिया. साथ ही बदमाशों ने वारदात के बारे में पुलिस को बताने पर जान से मारने की धमकी भी दी. वहीं, मामले में शिकायत मिलने के बाद पुलिस घटनास्थल के आसपास लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज खंगालने में लगी हुई है. पुलिस का कहना है कि अपराधियों को जल्द पकड़ा जाएगा.

व्यवसाई अश्वनी रस्तोगी की 75 वर्षीय मां राजकुमारी ने बताया कि तीन नकाबपोश बदमाश असलहे से लैस थे, उनके हाथ में चाकू भी था. घटना उस वक्त की है जब उनका बेटा अश्वनी बाहर मंदिर पूजा करने जा रहा था और वह दरवाजा बंद करने आई थीं. उन्होंने बताया कि तभी तीन बदमाश घर में घुस गए और जोर जबरदस्ती करने लगे, जिसके चलते जब उन्होंने हल्ला मचाने की कोशिश की तो नकाबपोश बदमाशों ने मुंह पर टेप लगा दिया और हाथ-पैर बांध कर ड्रॉइंग रूम से घसीटते हुए दूसरे कमरे में ले गए और फिर मारा पीटा भी. इसके बाद बदमाशों ने नकदी और जेवरात लूट लिए.

पीड़ित व्यवसाई की मां ने बताया कि बदमाश उनके और उनकी बहू के जेवर लूट ले गए हैं. राजकुमारी के अनुसार, जब उनका बेटा अश्वनी घर आया तो बदमाशों ने उसके हाथ-पैर बांधकर मारपीट की.

पीड़ित वर्तन व्यवसाई रस्तोगी ने बताया कि जब वह मंदिर से घर लौटे तो देखा 3 लोगों घर में लूटपाट कर रहे थे. घटना के 1 घंटे बाद अश्विनी रस्तोगी ने मामले की सूचना आपने बहनोई को दी, जिसके बाद बहनोई ने पूरे वारदात की सूचना ठाकुरगंज पुलिस को दी. फिर तत्काल घटनास्थल पर पुलिस फॉरेंसिक टीम और डॉग स्क्वायड के साथ पहुंची.

वहीं, पुलिस इलाके में लगे तमाम सीसीटीवी कैमरे की फुटेज को खंगालने में लगी हुई है. मामले में क्राइम ब्रांच टीम को भी लगाया गया है, ताकि जल्द से जल्द बदमाशों को दबोचा जा सके.

डीसीपी वेस्ट एस चिन्नप्पा ने बताया कि ‘थाना ठाकुरगंज के एपियर कालोनी में तीन बदमाशों ने एक घर में घुसकर लूटपाट की घटना को अंजाम दिया, जिसके चलते तत्काल मौके पर पुलिस पहुंची और छानबीन में जुट गई. एस चिन्नप्पा ने बताया कि लगभग 3 लाख रुपये के आसपास लूट की गई है. घटना में जो भी अपराधी सनलिप्त हैं, उनको पकड़ने के लिए टीमें गठित की गई हैं. जल्द ही अपराधियों को पकड़ लिया जाएगा.’