लखनऊ में अभी भी डेंगू का कहर जारी, तीन दिन में 52 मरीज

My Bharat News - Article मरीज

लखनऊ में डेंगू का प्रकोप कम नहीं हो रहा है। बीते तीन दिनों में अलग-अलग इलाकों से डेंगू के 52 मरीज मिले हैं। इसमें से कई सरकारी व निजी अस्पताल में भर्ती हैं। जिन इलाकों से डेंगू मरीज मिले हैं वहां एंटीलार्वा के छिड़काव संग फॉगिंग भी कराई जा रही है।

सीएमओ प्रवक्ता योगेश ने बताया कि बीती 24 अक्तूबर को डेंगू के 17 मरीज मिले थे। इसमें सिल्वर जुबली इलाके में 2, चंदननगर में 5, अलीगंज में 4, इंदिरानगर में 3 व चिनहट में 2, एनके रोड पर एक मरीज मिला। 25 अक्तूबर को डेंगू मरीजों का आंकड़ा कुछ कम हुआ। 14 डेंगू रोगी पाए गए। चंदननगर में 4, सिल्वर जुबली में 2, इंदिरानगर में 3, चिनहट में 2, टूडियागंज में 2, अलीगंज में 1 में केस मिला। बुधवार को डेंगू मरीजों का आंकड़ा फिर बढ़ गया।

अलग-अलग इलाकों में 21 डेंगू मरीज मिले, जिसमें चंदननगर में 3, सिल्वर जुबली में 2, इंदिरानगर में 3, चिनहट में 3, टूडियागंज में 2, अलीगंज में 2, सरोजनीनगर में 3, मोहनलालगंज में 2, एनके रोड में 1 केस पाए गए। टीम के जरिये 415 घरों एवं आसपास मच्छरजनित स्थितियों का सर्वेक्षण किया गया। तीन घरों में मच्छरजनित स्थितियां पाए जाने पर उन्हें नोटिस जारी किया गया।

सुल्तानपुर में 24 घंटे में 348 की जांच, 55 डेंगू पॉजिटिव
सुल्तानपुर जिले में एक माह के दौरान डेंगू की चपेट में आकर नौ लोगों की मौत तक हो चुकी है। लगातार बिगड़ रही स्थिति से निपटने के लिए स्वास्थ्य व मलेरिया विभाग के अधिकारी इसकी रोकथाम की कवायद में जुटे हैं। इसके चलते ही बुधवार को शहर के लाला का पुरवा और करौंदिया मोहल्ले में कैंप लगाकर हुई 180 बुखार पीड़ितों की जांच में 17 में डेंगू की पुष्टि हुई।
जिला अस्पताल में भी दो दिनों में पैथोलॉजी में जांचे गए 168 बुखार पीड़ितों के रक्त नमूनों में से 38 की डेंगू रिपोर्ट पॉजिटिव मिली है। पॉजिटिव मरीजों के सैंपल अब एलाइजा जांच के लिए भेजे गए हैं। 24 घंटे में ही डेंगू के 55 केस मिलने के बाद चेते स्वास्थ्य विभाग ने प्रभावित इलाकों में बुखार पीड़ितों की जांच व बचाव की जागरूकता के लिए स्वास्थ्य कर्मियों की टीमों को भेजा है।

डेंगू से सभासद के पति समेत दो की मौत
बाराबंकी जिले में 24 घंटे में डेंगू से सभासद के पति समेत दो और लोगों की मौत हो गई, जबकि 20 से अधिक नए मरीज मिले हैं। जिला अस्पताल में डेंगू वार्ड फुल हो गया है। मरीजों को जमीन पर लिटाकर इलाज किया जा रहा है। कई मरीजों का इलाज निजी अस्पतालों में चल रहा है। सीएचसी में डेंगू मरीजों के इलाज की कोई व्यवस्था ही नहीं है। जिले में डेंगू से अब तक सात लोगों की जान जा चुकी है। अयोध्या जिले में गोसाईगंज में आधा दर्जन मोहल्ले के 12 से ज्यादा निवासी डेंगू की चपेट में आकर गंभीर रूप से बीमार है।

जिले में डेंगू से पीड़ित मरीजों की संख्या हुई 98
अंबेडकरनगर जिले में डेंगू का प्रकोप कम होता नहीं दिख रहा है। बुधवार को डेंगू से पीड़ित मरीजों की संख्या बढ़कर 98 हो गई जबकि मलेरिया से पीड़ित तीन मरीज सामने आए। इन सभी का इलाज उनके घर पर ही चल रहा है। इस बीच स्वास्थ्य विभाग द्वारा अभियान चलाकर ग्रामीणों को डेंगू के प्रति जागरूक किया जा रहा है। साथ ही साफ-सफाई पर विशेष जोर दिया जा रहा है।