लखनऊ- बदला लेने के लिए जीजा ने किया साले का कत्ल, चाकू से किए कई वार

My Bharat News - Article का कत्ल

लखनऊ के सरोजनीनगर में रोहित सिंह बुंदेला (25) की हत्या उसके सगे बहनोई चंदन सिंह ने ही की थी। पुलिस के मुताबिक, डेढ़ साल पहले रोहित ने अपनी प्रेमिका व घरवालों के सामने बहनोई की पिटाई की थी। इसका बदला लेने के लिए ही आरोपी ने साजिश रचकर वारदात अंजाम दी। पुलिस ने चंदन को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। मूलरूप से जालौन के उरई निवासी प्रॉपर्टी डीलर वीरेंद्र सिंह बुंदेला सरोजनी नगर के मुल्लाही खेड़ा में किराए पर रहते हैं। बृहस्पतिवार रात वीरेंद्र के बेटे रोहित की हत्या कर दी गई थी। वह किसान पथ ब्रिज से पहले नहर किनारे पटरी पर खून से लथपथ पड़ा मिला था। एक राहगीर की मोबाइल रिकॉर्डिंग में रोहित ने जीजा पर आरोप लगाया था। रिपोर्ट दर्ज कर पुलिस ने सरोजनीनगर के गौरी विहार निवासी चंदन व एक अन्य रिश्तेदार को अगले ही दिन हिरासत में ले लिया था। सख्ती से पूछताछ में आरोपी ने पूरा सच उगल दिया।

प्रभारी निरीक्षक संतोष कुमार आर्य के मुताबिक, चंदन ने कुबूला कि करीब चार वर्ष पहले ससुरालीजन गौरी विहार कॉलोनी में किराये पर रहते थे। तब चंदन की पत्नी नेहा ने रोहित व पड़ोसी महिला को आपत्तिजनक स्थिति में देख लिया था। समझाने पर रोहित ने काफी झगड़ा किया था। करीब डेढ़ वर्ष पहले रोहित ने इसी मामले को लेकर गौरी विहार वाले घर पर अपनी प्रेमिका के सामने ही उसे पीटा था और बेइज्जती की थी।

इसके कुछ माह बाद नेहा अपने इकलौते बेटे को लेकर मायके गई थी। इस दौरान नशे की हालत में रोहित ने चाकू से बच्चे को मारने की कोशिश की थी। बाद में रोहित ने मुझे और मेरे बेटे की हत्या करने की धमकी भी दी थी। इसके बाद उसने रोहित को मारने की कई बार साजिश रची, लेकिन असफल रहा।

मोबाइल घर पर छोड़ा, बाजार से खरीदा चाकू
पुलिस के मुताबिक, चंदन ने कुबूला कि आठ सितंबर को नेहा की रिश्तेदार नाका के गणेश गंज निवासी सोनी सिंह के घर गणेश विसर्जन का कार्यक्रम था। इसमें वह परिवार को लेकर सुबह ही चला गया। जब सभी लोग विसर्जन को निकले तो चंदन अपना मोबाइल घर में छोड़कर नाका से टेंपो के जरिये सरोजनीनगर स्थित तीन नंबर बाजार पहुंचा। यहां उसने चाकू खरीदी और स्कूटर इंडिया चौराहे पहुंच गया।

साथ में पी बीयर और कर दिया कत्ल
पुलिस के मुताबिक, चंदन ने कुबूला कि रोहित स्कूटर इंडिया चौराहे पर रोज शाम को आता था। इससे वह रोहित के इंतजार में वहीं खड़ा हो गया। रात करीब आठ बजे रोहित गहरू रोड की तरफ से बाइक से आता दिखा तो आवाज देकर उसे रोक लिया। चंदन ने कहा कि दो बीयर है एकांत में चलकर पीते हैं। इस पर बाइक से दोनों किसान पथ ब्रिज से नहर पटरी पर पहुंच गए। नशे में होने के बाद घर जाने के लिए रोहित बाइक स्टार्ट करने लगा तभी चंदन ने चाकू से हमला कर दिया।

इस पर रोहित नीचे गिर गया और उसने तमंचा निकालकर चंदन पर फायर कर दिया, लेकिन गोली दूसरी तरफ निकल गई। इसके बाद चंदन ने चाकू से रोहित पर ताबड़तोड़ वार कर दिए। इस दौरान किसी बाइक सवार को आता देख चंदन ने चाकू फेंककर भाग निकला। पुलिस ने खून लगे चंदन के कपड़े और चाकू बरामद कर आरोपी को जेल भेज दिया।