मणिपुर में सेना की टुकड़ी पर हमला, अफसर की पत्नी-बच्चे समेत 7 जवान शहीद

My Bharat News - Article

मणिपुर में उग्रवादियों ने कायराना हरकत में चुराचांदपुर जिले के सिंघत उप-मंडल में असम राइफल्स के कमांडिंग ऑफिसर, उनके परिवार के सदस्यों और राइफल्स के अन्य जवानों को मार डाला। हमले में कर्नल विप्लव त्रिपाठी की पत्नी और बेटा भी मारे गए हैं। हमला सुबह 10 बजे हुआ है। हमले के पीछे पीपुल्स लिबरेशन आर्मी का हाथ बताया जा रहा है। इस हमले की पुष्टि मुख्यमंत्री एन बीरेन सिंह ने की है। उन्होंने घटना पर शोक व्यक्त किया है।


सूचना के अनुसार, 46 बजे सूचना के बाद ठीक होगा। स्वस्थ करने के लिए, रूप से काम करने का काम करें। बताया जा रहा है पहले से घात लगाकर उग्रवादियों ने कर्नल विप्लव त्रिपाठी , उनकी पत्नी और बेटे समेत 7 जवानों को मार डाला।


इस कायराना हमले की मणिपुर के मुख्यमंत्री एन बीरेन सिंह ने निंदा की है। सीएम सिंह ने सोशल मीडिया पर ट्वीट के जरिए अपनी बात रखी। उन्होंने लिखा, “मैं 46 एआर के काफिले पर कायरतापूर्ण हमले की कड़ी निंदा करता हूं। इस हमले में आज सीओ और उनके परिवार सहित कुछ कर्मियों की मौत हो गई है।

राज्य बल और अर्धसैनिक उग्रवादियों को पकड़ने के लिए कार्रवाई कर रहे हैं। अपराधी बख्शे नहीं जाएंगे।”
रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने भी ट्वीट करके घटना पर दुख जाहिर किया। उन्होंने लिखा, “मणिपुर के चुराचांदपुर में असम राइफल्स के वीर जवानों पर कायराना हमला हुआ है। घटना को लेकर मैं बेहद दुखी हूं और घटना पर शोक व्यक्त करता हूं। देश ने पांच वीर जवानों समेत सीओ और उनके परिवार के दो लोगों को खो दिया। “