बैग में शव मिलने के मामले में पुलिस के हाथ खाली, एसपी तलब किए गए

My Bharat News - Article हाईकोर्ट

इलाहाबाद हाईकोर्ट की लखनऊ खंडपीठ ने गोंडा नगर क्षेत्र में एक आश्रम के बाहर कार के बैग में रखे बालिका के शव मिलने के मामले में चार माह बाद भी पुलिस के खाली हाथ होने पर नाराजगी जताई है।


कोर्ट ने कहा कि पुलिस न तो कार के मालिक को तलाश सकी और न ही बालिका की मौत के कारणों का पता लगा सकी है।

इस मामले में गोंडा के पुलिस कप्तान और विवेचनाधिकारी को 30 अगस्त को कोर्ट में हाजिर हों।
न्यायमूर्ति राजन रॉय और न्यायमूर्ति शेखर यादव की खंडपीठ ने यह आदेश मृतक बालिका की मां की याचिका पर दिया।