बीजेपी को एक और बड़ा झटका, अब मंत्री दारा सिंह चौहान ने दिया इस्तीफा

My Bharat News - Article सिंह

उत्तर प्रदेश में होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले भारतीय जनता पार्टी को एक के बाद एक कई बड़े झटके लग रहे हैं. स्वामी प्रसाद मौर्य के बाद दारा सिंह चौहान के रूप में भाजपा को एक और झटका लगा है. यूपी सरकार के मंत्री दारा सिंह चौहान ने मंत्री पद से इस्तीफा दे दिया है. राज्यपाल को अपना त्यागपत्र भेजकर दारा सिंह चौहान ने अपना इस्तीफा दिया है और इस्तीफा देने के कारणों का भी पत्र में उल्लेख किया है.

त्यागपत्र में क्या-क्या आरोप लगाए

दारा सिंह चौहान ने अपने इस्तीफे में लिखा कि योगी आदित्यनाथ के कैबिनेट में वन, पर्यावरण और जंतू उद्यान मंत्री के रूप में मैंने पूरे सहयोग से अपना विभाग की बेहतरी के लिए कार्य किया, लेकिन सरकार की पिछड़ों, वंचितों, दलितों, किसानों और बेरोजगार नौजवानों की घोर उपेक्षात्मक रवैये के साथ-साथ पिछड़ों और दलितों के आरक्षण के साथ जो खिलवाड़ हो रहा है, उससे आहत होकर मैं उत्तर प्रदेश मंत्रिमंडल से इस्तीफा दे रहा हूं.

स्वामी ने कल दिया था झटका

सबसे पहले स्वामी प्रसाद मौर्य ने योगी कैबिनेट से मंगलवार को इस्तीफा देकर उत्तर प्रदेश के सियासी तापमान को बढ़ाया था. जैसे ही स्वामी के इस्तीफे की बात सामने आई, तभी से इस बात की अटकलें तेज हो गईं कि भाजपा से अभी कई और नेताओं का इस्तीफा हो सकता है. सूत्रों ने दावा किया था कि भाजपा के करीब एक-दो मंत्री और पांच-छह विधायक इस्तीफा दे सकते हैं और सभी सपा ज्वाइन कर सकते हैं. फिलहाल, दारा सिंह चौहान सपा ज्वाइन करेंगे या नहीं, अभी इसे लेकर अपने सियासी पत्ते नहीं खोले हैं.

दारा सिंह चौहान के इस्तीफ़े के बाद केशव मौर्य का ट्वीट

केशव प्रसाद मौर्य की दारा सिंह चौहान के इस्तीफे पर प्रतिक्रिया आई है. केशव प्रसाद मौर्य ने ट्वीट कर कहा कि परिवार का कोई सदस्य भटक जाये तो दुख होता है. जाने वाले आदरणीय महानुभावों को मैं बस यही आग्रह करूंगा कि डूबती हुई नाव पर सवार होने से नुकसान उनका ही होगा. बड़े भाई दारा सिंह जी आप अपने फैसले पर पुनर्विचार करिये.