बाराबंकी में नौकरी दिलाने के नाम पर लाखों की ठगी, टीजर ने अपने ही स्टूडेंड को बनाया शिकार

My Bharat News - Article ठगी

बाराबंकी- एफसीआई में नौकरी दिलाने का लालच देकर साढ़े तीन लाख रुपये ठगने वाले आरोपियों को पुलिस ने धर दबोचा। दोनों को सोमवार को जेल भेज दिया गया।


देवा कोतवाली क्षेत्र के नैरनी निवासी भानु प्रताप के अनुसार उससे एफसीआई में नौकरी लगवाने के नाम पर उसके गुरु दासखण्ड मजरे कासिमगंज निवासी उदयभान वर्मा व कोयलानगर थाना चकेरी जिला कानपुर नगर निवासी आलोक श्रीवास्तव ने कई बार में करीब साढ़े तीन लाख रुपये ठग लिए हैं। आरोप है कि इन लोगों ने भानु प्रताप को फर्जी नियुक्ति पत्र भी दे दिया था।


रविवार को दोनों ने एक बार फिर पांच लाख रुपये की मांग की और माती नहर पुल पर बुलाया था। इस पर पुलिस की मदद से भानु प्रताप ने दोनों को वहीं पर पकड़ लिया और पुलिस का सौंप दिया। पुलिस ने केस दर्ज कर उदयभान व आलोक को सोमवार को जेल भेज दिया।

एएसपी डॉ. अखिलेश नारायण सिंह ने बताया कि बंदी बनाए गए दोनों लोगों के पास से पुलिस ने 49 हजार 200 रुपये, एक नियुक्ति पत्र व चार पहिया वाहन व मोबाइल फोन बरामद किया है।