बाराबंकी में चौकीदार दंपति को जिंदा जलाने की कोशिश

My Bharat News - Article 2

बाराबंकी में नगर कोतवाली क्षेत्र में सफेदाबाद स्थित एक अविकसित कॉलोनी के चौकीदार दंपती को जिंदा जलाने का प्रयास किया गया। झुलसे दंपती का इलाज ट्रामा सेंटर में चल रहा है। वहीं पुलिस ने भाई की तहरीर पर जानलेवा हमले की रिपोर्ट अज्ञात पर दर्ज कर जांच शुरू की।


कोतवाली नगर के सफेदाबाद में गुलमोहर नाम की एक अविकसित कॉलोनी है। इस कॉलोनी में रामसनेहीघाट कोतवाली के चौरी अलादासपुर निवासी शेषनाथ (50) अपनी पत्नी शिव देवी और बच्चों के साथ रहकर चौकीदारी करता है। सोमवार की रात यहां पहुंच एक अज्ञात व्यक्ति ने यहां पहुंच कर दंपती पर डीजल उड़ेल आग लगा दी। शोर मचाने पर जागे बच्चों ने आग बुझाने के साथ पुलिस और परिजनों को सूचना दी। इसके बाद हड़कंप मच गया। आनन-फानन में झुलसे दंपती को एक निजी अस्पताल में पहुंचाया गया जहां से उनकी हालत गंभीर देख ट्रामा सेंटर लखनऊ रेफर कर दिया गया।


सीओ सिटी ने बताया कि चौकीदार को जिंदा जलाने का प्रयास किया गया था पत्नी उसको बचाने में झुलस गई है भाई राजेश शुक्ला की तहरीर पर जानलेवा हमले की रिपोर्ट का अज्ञात पर दर्ज की गई है। मामले की जांच की जा रही है। इस कॉलोनी के मालिक फैजान और कलाम के बीच पहले से चल रहे विवाद को लेकर भी जांच की जा रही है।