बाराबंकी- नोटिस को नजरअंदाज करना पड़ा भारी, प्रतिष्ठानों पर चला बुलडोजर

My Bharat News - Article

बाराबंकी में नोटिस के बाद भी हाईवे के किनारे से अतिक्रमण न हटाने वाले प्रतिष्ठानों पर गुरुवार को एनएचएआई का बुलडोजर चला। इस दौरान अभियान चलाकर हाईवे को अतिक्रमण मुक्त कराया गया। एनएचएआई के अधिकारियों ने चेतावनी देते हुए कहा कि यदि दोबारा अतिक्रमण हुआ तो सख्त कार्रवाई की जाएगी।

राष्ट्रीय राजमार्गों को अतिक्रमण मुक्त करने के लिए इनदिनों विशेष अभियान चलाया जा रहा है। शासन के आदेश पर अवैध बस स्टैंड, पार्किंग बनाने वालों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की जा रही है। कहा गया है कि हाईवे पर अवैध रूप से खड़े होने वाले ट्रकों के खिलाफ भी अभियान चलाया जाए और हाईवे किनारे की जमीन पर कब्जा करने वालों पर कार्रवाई करते हुए उसकी रिपोर्ट जल्द से जल्द उन्हें भेज दी जाए। इसके मद्देनजर नेशनल हाईवे अथॉरिटी ऑफ इंडिया के अधिकारियों ने 10 जून को मसौली चौराहे पर विशेष अभियान चलाकर फुटपाथ को अतिक्रमण मुक्त कराया था।

इस दौरान हाईवे की परिधि में आने वाले कई लोगों को नोटिस देकर स्वयं अतिक्रमण हटाने के लिए निर्देशित किया गया था। परंतु अतिक्रमण न हटाये जाने पर बृहस्पतिवार को एनएचएआई के रेजीडेंट अभियंता प्रमोद कुमार यादव की अगुवाई में कई दुकानों पर जेसीबी चलवाकर अतिक्रमण हटाया गया। वहीं हाईवे से सटाकर फल, सब्जी लगाने वाले फुटकर विक्रेताओं को भी हटाया गया। इस दौरान एनएचएआई के अधिकारियों के अलावा भारी संख्या में पुलिस बल तैनात रहा।

बाराबंकी- नोटिस को नजरअंदाज करना पड़ा भारी,  प्रतिष्ठानों पर चला बुलडोजर