बलिया में सीएम योगी ने स्वतंत्रता सेनानियों को श्रद्धांजलि दी

My Bharat News - Article

बलिया– मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज बलिया पहुंचकर बलिदान दिवस पर क्रांतिकारियों और स्वतंत्रता सेनानियों को नमन किया। सीएम ने क्रांतिकारियों और स्वतंत्रता सेनानियों को श्रद्धांजलि दी। परेड ग्राउंड में जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि बलिया को तीन वर्ष पूर्व ही मेडिकल कॉलेज मिल जाना चाहिए था। इसलिए मैं आज मुख्य सचिव को साथ लेकर आया हूं। वो यहीं पर पढ़े हैं। शाम तक यहां रहेंगे और क्रांतिकारियों की स्मृति में मेडिकल कॉलेज देकर जाएंगे।

एयरपोर्ट जैसा रोडवेज स्टेशन बनेगा
सीएम योगी ने परिवहन मंत्री दयाशंकर सिंह का नाम लेते हुए कहा कि यहां एयरपोर्ट जैसा रोडवेज स्टेशन बनाइए और कुछ इलेक्ट्रिक बसें भी चलवाएं। शिक्षकों से भी अपील की कि वे यहां की गांव-गांव की क्रांति को पुस्तक का रूप दें। हम उसे प्रकाशित कराएंगे। मुख्यमंत्री ने योगी आदित्यनाथ ने कहा कि बलिया के क्रांतिकारियों के बलिदान ने जनपद को नई पहचान दी। बलिया पौराणिक स्थल का प्रतीक है। यहां एक तरफ मां गंगा तो दूसरी तरफ मां सरयू का संगम है।

केंद्र सरकार की उपलब्धियां गिनाईं
योगी ने कहा कि अंग्रेजों ने भारतीयों पर क्रूरता की। उन्हें बैरकपुर की छावनी में मारकर जलाने का काम बलिया के लाल मंगल पांडेय ने किया। गांधी जी ने भारत छोड़ो आंदोलन का एलान किया तो चित्तू पांडेय के नेतृत्व में यहां का तूफान आगे बढ़ा। आजादी के अमृत महोत्सव जैसे कार्यक्रम हमें प्रेरणा प्रदान करते हैं। 1942 में तो बलिया ने अपने आप को स्वतंत्र राष्ट्र घोषित कर दिया था। 50 हजार लोगों ने जेल पर धावा बोलकर चित्तू पांडेय आदि को आजाद करा लिया था। सीएम योगी ने केंद्र और प्रदेश सरकार की उपलब्धियां भी गिनाई।