फरमानी नाज का ‘हर हर शंभू’ गाना यूट्यूब ने हटाया

हर हर शंभू गाना गाकर सुर्खियों में आईं फरमानी नाज को लेकर एक बड़ी खबर सामने आई है. फरमानी नाज के यूट्यूब अकाउंट से हर हर शंभू गाना हटा दिया गया है. आखिर क्या वजह रही है, जो इतना लोकप्रिय गाना अचानक फरमानी नाज के यूट्यूब चैनल से हटाना पड़ा.

क्यों हटाया गया गाना?

सावन के महीने में हर हर शंभू के गाने की गूंज हर घर में गूंज रही थी. इस गाने को लोगों ने इतना पसंद किया गया कि फरमानी नाज रातों-रात स्टार बन गईं. फरमानी को इसके लिये कुछ मुस्लिम कट्टरपंथियों से धमकी भी मिली, लेकिन वो बिना डरे अपना काम करती रहीं. असल में बात ऐसी है कि जिस गाने को लेकर फरमानी को इतनी लोकप्रियता मिली. वो गाना उनका ओरिजनल नहीं है.

जीतू शर्मा हैं गाने के लेखक

फरमानी नाज को लोकप्रिय बनाने वाला हर हर शंभू गाना जीतू शर्मा द्वारा लिखा गया है, जिसे उन्होंने अभिलिप्सा पांडे से रिकॉर्ड कराया था. जीतू शर्मा ने कहा था कि उन्हें फरमानी नाज के गाने से दिक्कत नहीं है. बस गाने का क्रेडिट मिलना चाहिये, क्योंकि उन्होंने इसे लिखने में काफी मेहनत की थी.

फरमानी नाज को पता था कि ये गाना उनका ओरिजनल नहीं है, लेकिन फिर भी वो लगातार इस मुद्दे को इग्नोर करती रहीं. अब जीतू शर्मा के विरोध के बाद उन्हें यूट्यूब से गाना हटाना पड़ा. क्योंकि गाने का असली कॉपी राइट जीतू शर्मा के पास है. कॉपी राइट के तहत अगर आप किसी का कंटेंट, वीडियो, या फिर फोटो लेते हैं, तो उसे आप बिना क्रेडिट दिये नहीं ले सकते.

जानिए कौन हैं जीतू शर्मा?

हर हर शंभू के ओरिजनल राइटर जीतू शर्मा ओडिशा के रहने वाले हैं. उनके पिता सब्जी की दुकान लगा कर घर चलाते हैं. जीतू शर्मा उन मेहनती लोगों में से हैं, जिनका बचपन बेहद गरीबी में गुजरा है. इसलिये वो सिर्फ 12वीं तक ही पढ़ाई पूरी कर पाये हैं. जीतू शर्मा का पालन-पोषण भले ही एक गरीब परिवार में हुआ, लेकिन उनके सपने बड़े थे.
बचपन से ही उन्हें गाने का काफी शौक रहा. यही वजह थी कि उन्होंने 2014 में यूट्यूब चैनल शुरू किया और अपने गुरू आकाश के साथ गाने बनाने लगे. वहीं जब फरमानी नाज ने उनका गाना गाकर लोकप्रियता पाई और क्रेडिट भी नहीं दिया, तो उन्हें काफी बुरा लगा. इसके बाद उन्होंने कानूनी कार्रवाई करने का ऐलान किया.

My Bharat News - Article image 54