दारोगा ने चौकी के बाहर दिया तीन तलाक, मुकदमा दर्ज होने के बाद दारोगा फरार

यूपी के बरेली में यूपी पुलिस के दरोगा ने चौकी चौराहे पर अपनी पत्नी को तीन तलाक देकर घर से बेघर कर दिया है. महिला ने दरोगा के खिलाफ लिखित शिकायत देकर शहर कोतवाली में एफआईआर दर्ज कराई है. मुकदमा दर्ज होने के बाद आरोपी दरोगा आरिफ खान फरार हो गया है. तीन तलाक के मुकदमे का आरोपी दरोगा बिजनौर में तैनात है. दरअसल, तीन तलाक पीड़ित महिला रुबीना खान खुद RPF में सिपाही है और 2006 में उसकी शादी आरिफ खान से हुई थी. शादी के वक्त आरिफ यूपी पुलिस में सिपाही था. लेकिन अब उसका प्रमोशन हो गया है और वर्तमान में वह बिजनौर जिले में दरोगा के पद पर तैनात है जबकि रुबीना बदायू में तैनात है. रुबीना के एक लड़का और एक लकड़ी है.

चौराहे पर जब दरोगा आरिफ खान अपनी पत्नी को तीन तलाक़ दे रहा था तो उसके बच्चे रो रहे थे और कह रहे थे पापा ऐसा मत करो, हमें तुम्हारी बहुत याद आएगी. लेकिन पत्थर दिल पिता का दिल नहीं पसीजा. उसने अपनी पत्नी को पहले तो चौराहे पर खूब गालियां सुनाई फिर उसे तलाक तलाक तलाक बोलकर पल भर में जिंदगी भर का रिश्ता खत्म कर दिया. तीन तलाक की इस घटना के बाद उसकी पत्नी और बच्चों का रो रो कर बुरा हाल है.

एसपी सिटी रविंद्र कुमार ने बताया कि एक महिला ने लिखित तहरीर देकर बताया कि वह अपने पति के खिलाफ दर्ज मुकदमे की पैरवी के लिए महिला थाने आई थी. तभी उसका पति भी मौके पर आ गया और दोनों के बीच कहासुनी हुई. जिसके बाद उसके पति ने एक बार में तीन तलाक बोलकर तलाक दे दिया है. कुमार ने बताया कि अब महिला की शिकायत के आधार पर आरोपी आसिफ के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है. फिलहाल आरोपी की तलाश पुलिस कर रही है.

My Bharat News - Article