टेक्सास में नदी सूखने पर हैरान कर देने वाली तस्वीर आई सामने

My Bharat News - Article

दुनिया के किसी इंसान ने अपनी आंखों से डायनासोर जैसे विशाल जीव बेशक नहीं देखें लेकिन कई जगह उनके किसी निशान के सहारे उनके अस्तित्व में होने के सबूत जरूर मिल चुके हैं. ऐसे ही अब कुछ सबूत अमेरिका के टेक्सास में डायनासोर वैली स्टेट पार्क से गुजर रही एक सूखी हुई नदी में देखने को मिले हैं. दरअसल, पार्क में नदी के सूखने के बाद निचली सतह पर डायनासोर की दो अलग प्रजातियों के पैरों की छाप मिली है, जो पूरे विश्व में चर्चा का विषय बन गए हैं.

टेक्सास की जिस नदी में डायनासोर के पैरों की छाप देखी गई है, वह डायनासोर वैली स्टेट पार्क से होकर बह रही है. नदी के अंदर ही उस ट्रैक का कुछ हिस्सा डूबा हुआ था, जिस पर से डायनासोर गुजरा करते थे. जिन डायनासोर के पैरों की छाप नदी के नीचे मिली है, उनके बारे में बताया जा रहा है कि वो करीब 113 मिलियन साल पहले धरती पर हुआ करते थे.
नदी में दिखे डायनासोर के पैरों के निशानों की फोटो सोशल मीडिया पर भी शेयर की जा रही है. फोटो में जो फुटप्रिंट्स दिख रहे हैं, उनमें तीने अंगूठे की शेप बनी हुई है. साथ ही कैप्शन में लिखा गया है कि यह दुनिया में डायनासोरों का सबसे लंबा ट्रैकवे है.

नदी का पानी सूखा तो नजर आए डायनासोरों के पैर के निशान

टेक्सास पार्क एंड वाइल्डलाइफ डिपार्टमेंट की अधिकारी स्टेफनी सलीनाज ग्रेसिया ने कहा कि सूखा पड़ने की वजह से नदी का पानी बेहद कम और कई जगहों पर बिल्कुल सूख गया जिस वजह से डायनासोर ट्रैक साफ नजर आने लगे हैं.

स्टेफनी ने बताया कि गर्मियों में अधिक सूखे की वजह से नदी अधिकतर जगहों पर पूरी तरह सूख गई है, जिसकी वजह से पार्क के अंदर डायनासोर ट्रैक की कई ऐसी लोकेशन भी नजर में आ गई है, जो पहले पानी में डूबी हुई थी. स्टेफनी ने बताया कि जो ये नए ट्रैक नजर आए हैं, अधिकतर पानी के अंदर थे और चट्टानों ने इन्हें ढक लिया था.

दो डायनासोर प्रजातियों के बताए जा रहे हैं ये निशान

टेक्सास के पार्क में नदी के सूखने के बाद जो पैरों के निशान मिले हैं, वे जो डायनासोर प्रजाति के बताए जा रहे हैं जिनमें सबसे ज्यादा एक्रोकैंथोसोरस के हैं. एक एडल्ट एक्रोकैंथोसोरस का सामान्य वजन करीब 7 टन होता था जो करीब 15 फीट तब तक लंबा होता था. वहीं कुछ निशान सॉरोपोसीडॉन प्रजाति के मिले हैं तो युवा समय में करीब 60 फीट लंबे और 44 टन के होते थे.

खास बात है कि जहां सूखा पड़ने की वजह से नदी का पानी खत्म हुआ और ये निशान देखने को मिल गए, लेकिन जैसे ही बरसात का मौसम आएगा, ये निशान एक बार फिर नदी के पानी में डूब जाएंगे. इस बारे में स्टेफनी ने बताया कि बेशक बारिश के बाद नदी में फिर पानी आ जाएगा और ये निशान छुप जाएंगे, लेकिन डायनासोर वैली स्टेट पार्क हमेशा इन 113 मिलियन साल पुराने ट्रैक्स को ना सिर्फ अभी के लिए बल्कि भविष्य की जनरेशन के लिए बचाकर रखेगा.