टीम इंडिया के गेंदबाज ने बिना मैच खेले ही बना दिया अनोखा रिकॉर्ड

My Bharat News - Article

स्पोर्ट्स डेस्क- भारत और बांग्लादेश के बीच दूसरा टेस्ट मैच मीरपुर के शेर-ए बांग्ला नेशनल स्टेडियम में खेला जा रहा है. मुकाबले में बांग्लादेश ने टॉस जीतकर पहले बैटिंग करने का फैसला किया है. टीम इंडिया सीरीज में 1-0 से आगे है ऐसे में उसका लक्ष्य इस मुकाबले को जीतकर मेजबानों का सफाया करने पर होगा.

इस दूसरे टेस्ट मैच के लिए भारतीय टीम की प्लेइंग-11 में तेज गेंदबाज जयदेव उनादकट को भी शामिल किया गया है. उनादकट को बाएं हाथ के कलाई के स्पिनर कुलदीप यादव की जगह टीम में एंट्री मिली है. कुलदीप यादव ने चटगांव टेस्ट मैच में टीम इंडिया की 188 रनों से जीत में यादगार प्रदर्शन किया था. पहले कुलदीप ने बल्ले से 40 रनों की पारी खेली थी. फिर गेंदबाजी में दोनों पारियों को मिलाकर उन्होंने कुल आठ विकेट चटकाए थे.

उनादकट ने दिनेश कार्तिक को पछाड़ा
खैर जो भी हो जयदेव उनादकट ने दूसरे मैच के लिए मैदान पर उतरने के साथ ही एक अनोखा रिकॉर्ड जरूर बना दिया है. दरअसल उनादकट ने साल 2010 में सेंचुरियन में साउथ अफ्रीका के खिलाफ मुकाबले से टेस्ट क्रिकेट में पदार्पण किया था और उसके बाद अब उन्हें अपना दूसरा टेस्ट मैच खेलने का मौका मिला है.

इन दो टेस्ट मैचों के बीच में उनादकट ने भारत के लिए 118 टेस्ट मिस किए, जो भारत के लिए किसी खिलाड़ी का दो टेस्ट मैचों के बीच सबसे लंबा अंतराल है. उनादकट ने दिनेश कार्तिक को पीछे छोड़ दिया है जिन्होंने 87 टेस्ट मैचों से बाहर रहने के बाद वापसी की थी. जयदेव उनादकट कुल मिलाकर अब इस लिस्ट में दूसरे नंबर पर आ गए हैं. रिकॉर्ड इंग्लैंड के गैरेथ बैटी के नाम पर है जिन्हें दो टेस्ट मैचों के बीच 142 मैच का इंतजार करना पड़ा था.

My Bharat News - Article image 20

31 साल के उनादकट साउथ अफ्रीका के खिलाफ उस डेब्यू टेस्ट मैच में कोई विकेट नहीं ले पाए थे. उनादकट साल 2013 में भारत के लिए सात वनडे मुकाबले भी खेल चुके हैं, जहां उनके नाम पर ्आठ विकेट दर्ज हैं. अब उन्हें एक बार फिर भारत के लिए खेलने का मौका मिला है.