जौनपुर- थाने के सामने से थानाध्यक्ष की सरकारी गाड़ी चोरी, अब पुलिस की नहीं निकल रही बोलती

प्रतिकात्मक फोटो

जौनपुर- घर और दुकान के बाहर सड़क पर खड़ीं गाड़ियां चोरी होने की घटना तो आम बात है, लेकिन थाने के सामने से सरकारी गाड़ी चोरी हो जाए, यह अपने आप में पुलिस की कार्य प्रणाली पर सवालिया निशान खड़ा करता है. इस घटना से जौनपुर पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया है. पुलिस ने इस घटना को दबाए रखा लेकिन सोशल मीडिया में थानेदार की सरकारी गाड़ी के चोरी होने की खबर चलने से पुलिस महकमा बैक फुट पर आ गया.

मिली जानकारी के अनुसार, घटना के बाद से जौनपुर के कई पुलिस अधिकारियों ने CUG नंबर उठाना बंद कर दिया है. जौनपुर के पुलिस अधीक्षक अजय साहनी के CUG नंबर पर काल करने पर उनके PRO ने बताया कि उन्हें ऐसी कोई जानकारी नहीं है और SP सिटी या CO सिटी से बात कर लीजिए. प्रदेश में थाने के सामने से सरकारी गाड़ी चोरी होने की सम्भवत यह पहली घटना है. इस घटना ने एन-काउंटर स्पेशलिस्ट अजय साहनी के अपराध मुक्त दावे की हवा निकाल दी है.

जौनपुर में अपराधी और चोर किस तरह बेखौफ हो गए हैं, इसका उदाहरण बुधवार को देखने को मिला. आम आदमी के वाहनों की चोरी और लूट की घटनाएं रोज होती हैं. सूत्र बताते हैं कि थानाध्यक्ष लाइन बाजार जिस सरकारी टाटा सूमो नंबर UP62AG 0420 से चलते थे, उसी सूमो को किसी ने बुधवार को थाने के सामने से उड़ा दिया. जानकारी मिलते ही पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया.

घटना के बाद से पुलिस सीसीटीवी कैमरे को खंगालने में जुटी हुई है. लेकिन देर रात तक कुछ भी जानकारी नहीं मिल सकी. विभागीय सूत्रों के मुताबिक वाराणसी जिले के पिंड्रा बाजार तक गाड़ी की लोकेशन मिली थी, उसके बाद की लोकेशन जुटाने में पुलिस के कई अधिकारी और सर्विलांस टीम लगी हुई है. घटना को 24 घंटे होने वाले हैं, लेकिन अधिकारी मीडिया के सामने कुछ बोलने से कतरा रहे हैं.