चावल के इन उपायों से दूर होगी पैसों की किल्लत

My Bharat News - Article

जीवन में कई बार बहुत मेहनत करने के बाद भी महन्त का पूरा फल नहीं मिल पाता और हमेशा किसी न किसी चीज की कमी बनी रहती है. ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, जीवन के सभी सुखों को पाने के लिए भाग्य का प्रबल होना बहुत जरूरी है. कई बार किन्ही कारणों से हमारा भाग्य हमारा साथ नहीं देता. ऐसे में चावल के कुछ छोटे-छोटे उपाय करने से अपने भाग्य को प्रबल बनाया जा सकता है.

दूर होगी पैसों की किल्लत
हिंदू धर्म में मान्यता है कि अक्षत मतलब यदि पूजा में प्रयोग किए जाने वाला चावल अखंडित हो तो इसे रोली के तिलक के साथ माथे पर लगाने से आर्थिक समस्याएं दूर होती है. इसके अलावा, तांबे के लोटे में रोली के साथ थोड़ा सा चावल डालकर सूर्य देव को अर्घ्य देने से सोया हुआ भाग्य जाग जाता है और व्यक्ति को कभी भी पैसों की किल्लत नहीं होती.

मां लक्ष्मीव का आशीर्वाद
मान्यता के अनुसार, पूर्णिमा के दिन सुबह उठकर स्नानादि करके, एक साफ लाल रेशमी कपड़े में चावल के 21 अखंडित दाने रखकर माता लक्ष्मी के समक्ष पूजा करें और पूजा के बाद इस पोटली को अपने घर के धन वाले स्थान पर संभाल कर रखें. ऐसा माना जाता है कि ऐसा करने से व्यक्ति को कभी पैसों की किल्लत का सामना नहीं करना पड़ेगा और घर में धन-धान्य के भंडार हमेशा भरे रहेंगे.

भगवान शंकर को चढ़ाएं अक्षत
मान्यताओं के अनुसार, यदि कोई व्यक्ति आर्थिक तंगी से गुजर रहा है और अथक मेहनत करने के बाद भी उसे उसकी मेहनत का पर्याप्त फल नहीं मिलता तो ऐसे में उस व्यक्ति को सोमवार के दिन अखंडित आधा किलो अक्षत लेकर किसी शिव मंदिर में जाकर भगवान शिव के नाम का जप करते हुए एक मुट्ठी अक्षत चढ़ाना चाहिए. इसके बाद बचे हुए चावल को किसी गरीब या जरूरतमंद व्यक्ति को दान करना चाहिए. इस उपाय को लगातार पांच सोमवार तक करने से धन से जुड़ी समस्या धीरे-धीरे समाप्त हो जाती है.