गोंडा में बहू की जघन्य हत्या, मदरसे के सेफ्टिक टैंक में फेंकी लाश

गोंडा के खोड़ारे के सेहरी हरदो गांव में दहेज में बुलेट मोटरसाइकिल व दो लाख रुपये नहीं मिलने पर ससुराल वालों ने विवाहिता की हत्या करके शव घर से सौ मीटर दूर स्थित मदरसे के सेप्टिक टैंक में फेंक दिया। बुधवार को मदरसे के छात्रों ने सेप्टिक टैंक से दुर्गंध आने पर मौलाना को जानकारी दी। इस पर मौलाना ने सेप्टिक टैंक खुलवाया तो उसमें विवाहिता की लाश मिली। सूचना पर पुलिस ने शव पोस्टमार्टम को भेजा है। मामले में मृतका की मां ने थाना खोड़ारे में पति समेत पांच लोगों के खिलाफ हत्या, दहेज हत्या व साक्ष्य छिपाने समेत विभिन्न धाराओं में रिपोर्ट दर्ज कराई है।

खोड़ारे थाना क्षेत्र के कोल्हई गरीब गांव की रहने वाली रुकसाना खातून पत्नी मो. अली ने बुधवार को थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई है। इसमें बताया कि उसने अपनी पुत्री फरहीन खातून (20) का निकाह दो साल पहले इसी थाना क्षेत्र के सेहरी हरदो गांव निवासी मोबीन अहमद के बेटे मुकीम अहमद से किया था। निकाह के छह माह बाद ससुराल वाले दहेज में बुलेट मोटरसाइकिल व दो लाख रुपये की मांग को लेकर फरहीन को प्रताड़ित करने लगे। रुकसाना का आरोप है कि दहेज की मांग पूरी न होने पर पति मुकीम, ससुर मोबीन अहमद, सास जैकुननिशा, देवर मुस्तकीम व मुकीम की बुआ अकनीमुननिशा ने 28 जुलाई को फरहीन की हत्या करके शव घर से 100 मीटर दूर स्थित मदरसे के सेप्टिक टैंक में फेंक दिया।
बुधवार सुबह मदरसे में पढ़ने वाले बच्चों ने दुर्गंध आने पर मौलाना को बताया। इस पर मौलाना टैंक के पास पहुंचे और ढक्कर हटवाकर देखा तो उसमें शव पड़ा मिला। इसकी सूचना पर मदरसे में भीड़ जुट गई। सीओ मनकापुर संजय तलवार व खोड़ारे इंस्पेक्टर सुरेश वर्मा मौके पर पहुंचे और शव टैंक से निकलवाया तो रुकसाना ने उसकी पहचान अपनी बेटी फरहीन के रूप में की। पुलिस ने शव पोस्टमार्टम के लिए भेजा है।

इंस्पेक्टर सुरेश वर्मा ने बताया कि रुकसाना खातून की तहरीर पर फरहीन के पति मुुकीम अहमद, ससुर मोबीन अहमद, सास जैकुननिशा, देवर मुस्तकीम व मुकीम की बुआ अकलीमुननिशा के खिलाफ हत्या, दहेज हत्या व साक्ष्य छिपाने समेत विभिन्न धाराओं में केस दर्ज किया है। आरोपियों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। एसपी आकाश तोमर ने बताया कि आरोपी पति मुकीम अहमद को गिरफ्तार कर लिया गया है।

गुमराह करने को दर्ज कराई थी गुमशुदगी
सेहरी हरदो गांव निवासी मुकीम अहमद ने अपने परिजनों संग पूरी साजिश रचने के बाद फरहीन की हत्या करके शव सेप्टिक टैंक में फेंक दिया। फिर मायके वालों व पुलिस को गुमराह करने के इरादे से 30 जुलाई को पत्नी की गुमशुदगी दर्ज करा दी। इसमें बताया कि 28 जुलाई की रात करीब 12 बजे फरहीन लापता हो गई। इंस्पेक्टर ने बताया कि लापता फरहीन की तलाश के लिए उपनिरीक्षक अरुण राय को जांच सौंपी थी।

My Bharat News - Article की हत्या