गायत्री प्रजापति पर ईडी का शिकंजा कसा, बेटे की करोड़ों की संपत्ति कब्जे में लिया

My Bharat News - Article प्रजापति

उत्तर प्रदेश के पूर्व खनन मंत्री और आजीवन कारावास की सजा काट रहे गायत्री प्रजापति के परिवार पर ईडी की निगाह सख्त हो गई है। बुधवार को ईडी की टीम ने लखनऊ और अमेठी में गायत्री प्रजापति के परिजनों की करीब 4.50 करोड़ रुपये की संपत्ति को कब्जे में ले लिया है। कब्जे में ली गई संपत्तियों पर ईडी ने अपना बोर्ड लगा दिया है।

प्रवर्तन निदेशालय की टीम ने बुधवार को लखनऊ प्रशासन की मदद से मोहनलालगंज के मऊ गांव में पूर्व मंत्री के बेटे अनिल प्रजापति के नाम से खरीदी गई साढ़े चार बीघा जमीन को कब्जे में ले लिया।

इसी तरह ईडी की टीम ने अमेठी में पूर्व मंत्री गायत्री प्रजापति के गांव परसवां स्थित कृषि योग्य जमीन गाटा संख्या 50 व 59 तथा महमूदपुर में गाटा संख्या 1072 और बहादुरपुर में पूर्व मंत्री की जमीन को अपने कब्जे में ले लिया।

कब्जे में ली गई संपत्ति पर ईडी ने बोर्ड लगा दिया है जिस पर साफ उल्लेख किया है कि यह जमीन सरकार के कब्जे में आ गई है और इसकी बिकवाली नहीं हो सकती है। तहसीलदार बृजमोहन ने बताया कि ईडी की टीम ने कार्रवाई की है।