कुंभ राशि में 30 साल बाद शनि, इन राशियों की बदल जाएगी किस्मत

My Bharat News - Article की साढ़ेसाती

ग्रहों के सेनापति शनि एक बार किसी इंसान पर भारी हो जाएं तो उसका जीवन दुखों से भर देते हैं. शनि की टेढ़ी नजर जिस पर भी पड़ती है, उसे कई उतार-चढ़ावों का सामना करना पड़ता है. शनि 30 साल में अपना राशि चक्र पूरा करता है. चूंकि शनि को एक क्रूर ग्रह माना जाता है, इसलिए जातकों को इसकी दृष्टि से बहुत संभलकर रहना पड़ता है.
30 साल बाद कुंभ राशि में शनि
17 जनवरी 2023 को शनि देव कुंभ राशि में प्रवेश करने वाले हैं. ज्योतिषविदों का कहना है शनि देव करीब 30 साल बाद अपनी मूल राशि कुंभ में प्रवेश करने जा रहे हैं. शनि अभी मकर राशि में विचरण कर रहे हैं. शनि के कुंभ राशि में प्रवेश करते ही कई राशियों पर शनि की साढ़ेसाती और ढैय्या शुरू हो जाएगी.

इन 2 राशि वालों को रहना होगा संभलकर
शनि के कुंभ राशि में गोचर करते ही सभी जातकों को इसके अच्छे-बुरे परिणाम मिलने शुरू हो जाएंगे. इस गोचर के बाद मिथुन और तुला राशि वालों को नुकसान उठाना पड़ सकता है. दरअसल, इन दोनों राशियों पर शनि की ढैय्या शुरू हो जाएगी. इसके बाद आपके बने बनाए काम बिगड़ सकते हैं. दांपत्य जीवन में समस्याएं आ सकती हैं. घर की सुख-शांति भंग हो सकती है. इन दोनों ही राशि के जातकों को नौकरी-कारोबार में नुकसान उठाना पड़ सकता है. आय में कमी आ सकती है. सहकर्मियों के साथ संबंध बिगड़ सकते हैं.

क्या है उपाय?
शनि से जुड़ी समस्या बढ़ने पर शनिवार को गरीबों को भोजन कराकर उन्हें दान देना चाहिए. इसके अलावा शनि मंदिर में तेल का दान और ॐ हं हनुमते नमः मंत्र का जाप करें. पितरों को याद करते हुए पीपल के पेड़ को जल अर्पित करने से भी समस्या दूर हो सकती है.

इन 3 राशियों को लाभ
शनि के कुंभ राशि में प्रवेश करने के बाद मकर, कुंभ और धनु राशि के जातकों को लाभ होने वाला है. इस राशि के जातक शनि की साढ़े साती से मुक्त हो जाएंगे. अब तक उनके जो काम अटके हुए थे, वो तेजी से पूरे होने लगेंगे. नौकरी-व्यापार के मोर्चे पर सफलताएं प्राप्त करेंगे. जीवन में धन का प्रवाह बढ़ेगा. संतान की ओर से खुशखबरी मिल सकती है. यात्राओं से लाभ होगा. निवेश करने के लिए भी समय अनुकूल रहने वाला है.