ऑस्ट्रेलिया में भारतीय छात्र पर चाकू से 11 बार हमला, हालत गंभीर, अब बेटे से मिलने के लिए तड़प रहा परिवार

My Bharat News - Article छात्र पर हमला

ऑस्ट्रेलिया में भारतीय लोगों पर नस्लीय हमले रुकने का नाम नहीं ले रहे हैं. यहां से नस्लीय हमले का एक और मामला सामने आया है, जिसमें भारतीय छात्र पर चाकू से हमला कर उसे बुरी तरह से घायल कर दिया गया. यह छात्र उत्तर प्रदेश के आगरा शहर का रहने वाला है. ऑस्ट्रेलियाई पुलिस ने इस घटना को अंजाम देने वाले आरोपी हमलावर को गिरफ्तार कर लिया है. इस बीच ऑस्ट्रेलियाई उच्चायोग परिवार के एक सदस्य के लिए वीजा की सुविधा में सहायता कर रहा है.

ऑस्ट्रेलिया में पढ़ाई कर रहे शुभम गर्ग आगरा के किरावली इलाके के पेठगली के रहने वाले हैं. इस नस्लीय हिंसा में छात्र पर चाकू से 11 बार हमला किया गया. हमलवार के हमले से युवक गंभीर रूप से घायल हो गया है. आगरा में रह रहे उसके परिजन इस घटना से बेहद दुखी हैं और उसे भारत लाने की मांग कर रहे हैं. ऑस्ट्रेलियाई पुलिस ने शुभम गर्ग पर हमला करने वाले जिस आरोपी को गिरफ्तार किया है, उसका नाम डेनियल नॉरवुड बताया जा रहा है. हमले में गंभीर रूप से घायल युवक का अस्पताल में इलाज चल रहा है.

दूसरी ओर, ऑस्ट्रेलियाई उच्चायोग के प्रवक्ता ने भारतीय छात्र को चाकू मारे जाने को लेकर जानकारी देते हुए बताया कि सिडनी में भारतीय वाणिज्य दूतावास ने छात्र को कांसुलर सहायता प्रदान की है. ऑस्ट्रेलियाई उच्चायोग परिवार के एक सदस्य के लिए वीजा की सुविधा में मदद कर रहा है.

UNSW यूनिवर्सिटी से PHD कर रहा शुभम
28 साल के शुभम पर ऑस्ट्रेलिया के सिडनी में 6 अक्टूबर को हमला किया गया था. सिडनी में न्यू साउथ वेल्स यूनिवर्सिटी में मैकेनिकल इंजीनियरिंग में पीएचडी कर रहे शुभम पर हमलावर ने 11 बार चाकू से हमला किया. रिपोर्टों के मुताबिक, शुभम की हालत गंभीर बताई जा रही है. आगरा में रह रहा शुभम का परिवार वीजा से जुड़ी समस्याओं की वजह से उससे मिलने नहीं जा सकता है. बताया जा रहा है कि शुभम के सीने, चेहरे और पेट पर कई गहरे घाव आए हैं.

परिवार को अभी नहीं मिला वीजा
टाइम्स ऑफ इंडिया के मुताबिक, माता-पिता अपने बेटे से मिलने के लिए बैचेन है, लेकिन वीजा की समस्या उनकी परेशानी का सबब बनी हुई है. शुभम के परिजनों ने बताया कि वो करीब एक हफ्ते से वीजा आने का वेट कर रहे हैं. वीजा की प्रक्रिया अब भी चल रही है. वहीं, शुभम के दोस्तों ने बताया कि हमलावर शुभम को नहीं जानता था. उन्हें शक है कि ये हमला नस्लीय भेदभाव के चलते किया गया है. हालांकि स्थानीय ऑस्ट्रेलियाई मीडिया ने बताया कि नॉरवुड ने शुभम गर्ग को गैटाक्रे एवेन्यू के पास रोका था. उसने गर्ग को कैश और अपना मोबाइल फोन देने की धमकी दी थी. शुभम ने जब इसका विरोध किया, तो हमलावर ने उसपर कई वार किए और मौके से फरार हो गए.

आरोपी को जमानत देने से इनकार
आगरा के डीएम ने बताया कि वह शुभम के परिजनों के संपर्क में बने हुए हैं और उनके वीजा की प्रक्रिया फिलहाल चल रही है. उन्होंने यह भी बताया कि उन्होंने भारतीय विदेश मंत्रालय और ऑस्ट्रेलियाई दूतावास से इसको लेकर बात भी की है. ऑस्ट्रेलियाई पुलिस ने 27 साल के डेनियल नॉरवुड को घटनास्थल से ही गिरफ्तार कर लिया था. उस पर हत्या की कोशिश के तहत मामला दर्ज किया गया है. हॉर्नस्बी लोकल कोर्ट ने नॉरवुड को जमानत देने से साफ इनकार कर दिया है. उसे अब 14 दिसंबर को कोर्ट में पेश किया जाएगा.