इंदौर में फैक्ट्री के 7 कर्मचारियों ने एक साथ खाया जहर, वजह जान दंग रह जाएंगे आप

My Bharat News - Article

इंदौर में एक फैक्ट्री में आज अजब वाकया हुआ. यहां के 7 कर्मचारियों ने एक साथ जहर खा लिया. वजह ये थी कि उनका ट्रांसफर कर दिया गया था. कर्मचारियों ने पहले कंपनी में हंगामा किया औऱ फिर ये आत्मघाती कदम उठा लिया. सभी को अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

इंदौर के परदेशीपुरा थाना इलाके में स्थित अजमेरा वायर कम्पनी में गुरुवार दोपहर अफरातफरी का माहौल हो गया. यहां सात कर्मचारी मैनेजर के पास पहुंचे और बोले हम सबने जहर खा लिया है. ये सुनते ही मैनेजर और स्टाफ घबरा गए और उन्होंने फौरन एंबुलेंस बुलवाकर सबको एम वाय अस्पताल पहुंचाया.

ट्रांसफर से नाराज हैं कर्मचारी
इंदौर के परदेशीपुरा में अजमेरा वायर नाम की फैक्ट्री है. यहां किचन ट्रॉली और इसमें उपयोग होने वाला सामान बनाया जाता है. यह कम्पनी पिछले कुछ महीने से घाटे में चल रही थी. इसलिए प्रबंधन ने यहां उत्पादन पर रोक लगा दी और कुछ कर्मचारियों का दूसरी कम्पनी में ट्रांसफर कर दिया. लेकिन कर्मचारी यहां से नहीं जाना चाहते थे. मैनेजमेंट उन्हें लगातार समझा रहा था और वो लगातार दवाब बना रहे थे.

कर्मचारियों ने की तोड़फोड़
कम्पनी संचालक रवि बाफना की एक और कम्पनी है जो बाणगंगा इलाके में है. यहां एक नामी ऑटो मोबाइल कम्पनी के कुछ उत्पादों का निर्माण होता था. अजमेरा कम्पनी के सात कर्मचारी जमनाधार विश्वकर्मा, दीपक सिंह, राजेश, देवीलाल, रवि, जितेंद्र धमनिया, शेखर वर्मा का उसी फैक्ट्री में ट्रांसफर कर दिया गया है. लेकिन वो फैक्ट्री दूर है इसलिए कर्मचारी वहां जाना नहीं चाहते. दो दिन पहले कर्मचारी और प्रबंधन के बीच बैठक भी हुई थी. जानकारी है कि उस वक़्त कर्मचारी मान गए थे. आज दोपहर अचानक सातों कर्मचारी फैक्ट्री पहुंचे और जमकर हंगामा किया. उन्होंने कुछ तोड़फोड़ की और फिर जहर खा लिया.

पुलिस का बयान
थाना प्रभारी परदेशीपुरा पंकज दिवेदी ने बताया कि इलाके में एक फैक्ट्री के बाहर कुछ लोगों ने किसी वस्तु का सेवन कर लिया है. उन्हें इलाज के लिए एमवाय अस्पताल में भर्ती कराया गया है. सभी की हालत खतरे से बाहर है. मामले की जांच की जा रही है. इसकी वैधानिक कार्रवाई की जा रही है.