14 C
Lucknow
सोमवार, नवम्बर 29, 2021

असम में गृहमंत्री ने विपक्ष से किया सवाल ? कहा क्या कांग्रेस और बाकी विपक्षी दल रोक सकतें हैं घुसपैठ

Must read

गौतम गंभीर को तीसरी बार मिली जान से मारने की धमकी

पूर्वी दिल्ली से भाजपा सांसद गौतम गंभीर को फिर जान से मारने की धमकी मिली है। गौतम गंभीर को कथित तौर पर...

UPTET पेपर लीक मामला- सीएम ने कहा- आरोपियों पर गैंगेस्टर और रासुका के तहत कार्रवाई, संपत्ति भी होगी जब्त

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने टीईटी की परीक्षा लीक मामले को काफी गंभीरता से लिया है। उन्होंने आरोपियों के खिलाफ गैंगेस्टर एक्ट के...

चिरंजीवी ने कोरियोग्राफर के इलाज के लिए दिए 3 लाख

राष्ट्रीय पुरस्कार विजेता कोरियोग्राफर शिवशंकर मास्टर कोविड-19 से लड़ रहे हैं. कोरियोग्राफर फिलहाल अस्पताल में भर्ती हैं और बताया जा रहा है...

दुनिया में कोरोना से हाहाकार, इजराइल में विदेशियों के आने पर पाबंदी, ब्रिटेन में हाई अलर्ट, साउथ अफ्रीका में लॉकडाउन का विरोध

साउथ अफ्रीका में कोरोना का नया वैरिएंट ओमिक्रॉन मिलने बाद दुनिया अलर्ट पर है। इजराइल ने तमाम विदेशी नागरिकों की देश में...

असम के कामरूप में पहुंचे केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने कांग्रेस और विपक्षी दलों पर तंज कसते हुये ये सवाल पूछा है कि क्या कांग्रेस और बाकी विपक्षी दल यहां होने वाली घुसपैठ को रोकने में सक्षम हैं ? गृहमंत्री ने कहा कि नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में एक महज बीजेपी की सरकार ही है जो घुसपैठ को रोक सकती है.इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि असम में आज दो सबसे बड़ी समस्या घुसपैठ और बाढ़ है.

My Bharat News - Article UYIYI
गृहमंत्री अमित शाह

इसके साथ ही केंद्रीय गृहमंत्री ने आगे कहा कि पूर्वोत्तर भारत में कभी आंदोलन और हिंसा होती थी. ओर अलग-अलग समूह के लोग हाँथो में हथियार लिए नजर आते थे. आज वो सारे मुख्यधारा के साथ जुड़े दिखते हैं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में एक बहुत बड़े परिवर्तन की शुरुआत हुई है.

अमित शाह ने आगे कहा कि, आज मुझे बहुत खुशी हो रही है कि श्रीमंत शंकरदेव का जो जन्मस्थान था, वो घुसपैठियों ने कब्जाया हुआ था. उसे खाली करके आज शंकर देव की महान स्मृति को चीर काल तक स्थायी करने का काम हेमंत बिस्वा शर्मा और हमारे मुख्यमंत्री जी करने जा रहे हैं।

My Bharat News - Article HJHTJ
केंद्रीय गृहमंत्री

केंद्रीय गृहमंत्री ने कहा, मोदी जी ने पूर्वात्तर के विकास को केंद्र में रखकर 6 साल तक सरकार चलाई है. हम आगे भी यहां के लिये काम करते रहेंगे । पांच साल में कभी-कभी कोई प्रधानमंत्री पूर्वात्तर आ जाए तो आए जाए, मोदी जी ने 6 साल में 30 बार पूर्वात्तर का दौरा किया और हर बार तोहफा लेकर आए.उन्होंने कहा, मुझे ये कहते हुए खुशी हो रही है कि देश मे कोरोना का सामना करने में असम सबसे ऊपर के राज्यों में रहा है. टेस्टिंग के मामले में ये आगे रहा.”

अमित शाह ने विपक्ष को टारगेट करते हुये कहा कि आज हमारे पास सिर्फ विकास ही आगे बढ़ने का एकमात्र रास्ता है, और विकास हो रहा है और आगे भी यह होता रहेगा लेकिन इसके लिये आज हमें वैचारिक परिवर्तन की भी आवश्यकता है और यह केवल विकास के माध्यम से नहीं हो सकता है.

गृहमंत्री ने असम में अलग-अलग विकास परियोजनाओं की आधारशिला रखी. इस मौके पर असम के मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल भी मौजूद रहे. अमित शाह ने गुवाहाटी में दूसरे मेडिकल कॉलेज, नौ लॉ कॉलेज और बाताद्रवा थान की आधारशिला रखी.

इसके साथ ही केंद्रीय गृहमंत्री ने आगे कहा कि पूर्वोत्तर भारत में कभी आंदोलन और हिंसा होती थी. ओर अलग-अलग समूह के लोग हाँथो में हथियार लिए नजर आते थे. आज वो सारे मुख्यधारा के साथ जुड़े दिखते हैं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में एक बहुत बड़े परिवर्तन की शुरुआत हुई है.

My Bharat News - Article TTRH
अमित शाह

अमित शाह ने आगे कहा कि, आज मुझे बहुत खुशी हो रही है कि श्रीमंत शंकरदेव का जो जन्मस्थान था, वो घुसपैठियों ने कब्जाया हुआ था. उसे खाली करके आज शंकर देव की महान स्मृति को चीर काल तक स्थायी करने का काम हेमंत बिस्वा शर्मा और हमारे मुख्यमंत्री जी करने जा रहे हैं।

केंद्रीय गृहमंत्री ने कहा, मोदी जी ने पूर्वात्तर के विकास को केंद्र में रखकर 6 साल तक सरकार चलाई है. हम आगे भी यहां के लिये काम करते रहेंगे । पांच साल में कभी-कभी कोई प्रधानमंत्री पूर्वात्तर आ जाए तो आए जाए, मोदी जी ने 6 साल में 30 बार पूर्वात्तर का दौरा किया और हर बार तोहफा लेकर आए.उन्होंने कहा, मुझे ये कहते हुए खुशी हो रही है कि देश मे कोरोना का सामना करने में असम सबसे ऊपर के राज्यों में रहा है. टेस्टिंग के मामले में ये आगे रहा.”

अमित शाह ने विपक्ष को टारगेट करते हुये कहा कि आज हमारे पास सिर्फ विकास ही आगे बढ़ने का एकमात्र रास्ता है, और विकास हो रहा है और आगे भी यह होता रहेगा लेकिन इसके लिये आज हमें वैचारिक परिवर्तन की भी आवश्यकता है और यह केवल विकास के माध्यम से नहीं हो सकता है.

गृहमंत्री ने असम में अलग-अलग विकास परियोजनाओं की आधारशिला रखी. इस मौके पर असम के मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल भी मौजूद रहे. अमित शाह ने गुवाहाटी में दूसरे मेडिकल कॉलेज, नौ लॉ कॉलेज और बाताद्रवा थान की आधारशिला रखी.

- विज्ञापन -

More articles

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

- विज्ञापन -

Latest article

गौतम गंभीर को तीसरी बार मिली जान से मारने की धमकी

पूर्वी दिल्ली से भाजपा सांसद गौतम गंभीर को फिर जान से मारने की धमकी मिली है। गौतम गंभीर को कथित तौर पर...

UPTET पेपर लीक मामला- सीएम ने कहा- आरोपियों पर गैंगेस्टर और रासुका के तहत कार्रवाई, संपत्ति भी होगी जब्त

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने टीईटी की परीक्षा लीक मामले को काफी गंभीरता से लिया है। उन्होंने आरोपियों के खिलाफ गैंगेस्टर एक्ट के...

चिरंजीवी ने कोरियोग्राफर के इलाज के लिए दिए 3 लाख

राष्ट्रीय पुरस्कार विजेता कोरियोग्राफर शिवशंकर मास्टर कोविड-19 से लड़ रहे हैं. कोरियोग्राफर फिलहाल अस्पताल में भर्ती हैं और बताया जा रहा है...

दुनिया में कोरोना से हाहाकार, इजराइल में विदेशियों के आने पर पाबंदी, ब्रिटेन में हाई अलर्ट, साउथ अफ्रीका में लॉकडाउन का विरोध

साउथ अफ्रीका में कोरोना का नया वैरिएंट ओमिक्रॉन मिलने बाद दुनिया अलर्ट पर है। इजराइल ने तमाम विदेशी नागरिकों की देश में...

पेपर लीक होने के बाद UPTET परीक्षा रद्द, कई गिरफ्तार

उत्तर प्रदेश में रविवार यानी 28 नवंबर को हो रही यूपी शिक्षक पात्रता परीक्षा रद्द (UPTET Exam 2022) कर दी गई है....