अब मॉल और शॉपिंग कॉन्प्लेक्स में पार्किंग फीस देना गैरकानूनी

My Bharat News - Article में पार्किंग

छुट्टी वाले दिन दोस्तों और रिश्तेदारों के साथ बहुत सारे लोग मॉल और शॉपिंग कंपलेक्स में ना सिर्फ खरीदारी करने बल्कि मनोरंजन करने के लिए भी जाते हैं. मॉल की पार्किंग का इस्तेमाल करने पर उन्हें फीस के रूप में कुछ पैसे देने पड़ते हैं. क्या आपने भी कभी मॉल की पार्किंग इस्तेमाल करने पर चार्ज दिया है? देश के कई राज्य में इस फीस को लेकर कुछ लोग हाई कोर्ट का रुख कर चुके हैं.

इस मामले को लेकर गुजरात और केरल हाईकोर्ट की ओर से एक फैसला सुनाया गया था. मॉल के आसपास काम करने वाले कुछ ऐसे भी लोग होते हैं जो केवल पार्किंग की सुविधा का इस्तेमाल करते हैं. लेकिन कभी भी वह खरीदारी नहीं करते हैं.

पार्किंग फीस मांगने पर उन्हें दे जवाब
अगर आप भी मॉल की पार्किंग के लिए पैसे देते हैं तो ऐसे में उन्हें जवाब देना बहुत जरूरी है. दरअसल गुजरात उच्च न्यायालय की ओर से वर्ष 2019 में एक फैसला सुनाया गया था. इसके तहत मॉल या किसी मल्टीप्लेक्स को पार्किंग फीस लेने का कोई अधिकार नहीं है. सिर्फ इतना ही नहीं जो लोग भी मॉल घूमने या खरीदारी करने जाते हैं उनसे किसी भी चीज के लिए एक्स्ट्रा चार्ज करना गैरकानूनी है. उच्च न्यायालय की ओर से यह भी कहा गया था कि जो ग्राहक नहीं होते और रेगुलर पार्किंग का इस्तेमाल करते हैं उन्हें लेकर विचार करने की जरूरत है.

पार्किंग ग्राहकों का हक है
28 जनवरी को केरल हाईकोर्ट में लुलु इंटरनेशनल शॉपिंग मॉल की पार्किंग को लेकर सुनवाई के दौरान न्यायमूर्ति पी. वी. कुन्हीकृष्णन ने साफ तौर पर कहा था कि मॉल में खरीदारी करने वाले ग्राहकों से पार्किंग फीस लेना सही नहीं है. पार्किंग लोगों की जरूरत है. अगर मॉल में यह सुविधा नहीं हो तो आसपास जाम लग सकती है इसके अलावा यह भी कहा गया था कि इस मामले को लेकर मल्टीप्लेक्स को विचार करने की जरूरत है. इस से ग्राहकों को परेशानी आ सकती है.

कोर्ट के अनुसार पार्किंग फीस अवैध
कोर्ट ने मामले की सुनवाई करते हुए कहा था कि बिल्डिंग बनाते समय नियमों के अनुसार इसमें पार्किंग की सुविधा दी जाती है. सिर्फ इतना ही नहीं परमिट भी देते करते समय यह सुनिश्चित की जाती है कि मॉल में पार्किंग की जगह होगी. अगर आप भी कहीं शॉपिंग करने जाते हैं और पार्किंग के लिए फीस दे रहे हैं तो उन्हें ऐसा करने से मना कर सकते हैं. सिर्फ इतना ही नहीं ऐसा कर आप महीने में हजारों रुपये बचा सकते हैं.